What is insurance policy

What Is Insurance Policy

What is insurance policy
What is the insurance policy

बीमा भविष्य में किसी नुकसान की आशंका से निपटने का हथियार है हमें नहीं पता कि कल क्या होगा इसलिए हम बीमा पालिसी (insurance policy) के जरिए भविष्य में संभावित नुकसान की भरपाई की कोशिश करते हैं।

इंश्योरेंस का मतलब जोखिम से सुरक्षा है अगर कोई बीमा कंपनी किसी व्यक्ति का बीमा करती है तो उस व्यक्ति को होने वाले आर्थिक नुकसान की भरपाई बीमा कंपनी करेगी इसी तरह अगर बीमा कंपनी ने किसी कार घर या स्मार्टफोन का बीमा किया है तो उस चीज के टूटने फूटने खोने या क्षतिग्रस्त होने की स्थिति में बीमा कंपनी उसके मालिक को पहले से तय शर्तों के हिसाब से मुआवजा देती है।

बीमा वास्तव में बीमा कंपनी और बीमित व्यक्ति के बीच एक अनुबंध है इस कांटेक्ट के तहत बीमा कंपनी बीमित व्यक्ति के से एक निश्चित धनराशि लेती है और बीमा व्यक्ति या कंपनी को पाल्सी की शर्त के हिसाब से किसी नुकसान की स्थिति में हर्जाना देती है।

अगर हम इसको आसान भाषा में समझना चाहें तो हम यह कह सकते हैं कि एक ऐसी व्यवस्था जिसमें कोई भी एक बीमा कंपनी आपके किसी भी प्रकार का नुकसान बीमारी दुर्घटना या मृत्यु में आपको मुआवजा देने की गारंटी देता हो उसे बीमा कहते हैं

बीमा(insurance) कितने प्रकार का होता है-


आमतौर पर बीमा दो प्रकार का होता है
1- जीवन बीमा
2- साधारण बीमा

जीवन बीमा(life insurance)-

जीवन बीमा लाइफ इंश्योरेंस का मतलब यह है कि बीमा पॉलिसी खरीदने वाले व्यक्ति की मृत्यु होने पर उसके आश्रित को बीमा कंपनी की तरफ से मुआवजा मिलता है।

अगर परिवार के मुखिया की असमय मृत्यु हो जाती है तो घर का खर्च चलाना मुश्किल हो जाता है परिवार के मुख्य व्यक्ति की पत्नी उसके बच्चे उसके माता-पिता आदि को आर्थिक संकट से बचाने के लिए जीवन बीमा पॉलिसी लेना जरूरी है वित्तीय योजना में सबसे पहले किसी व्यक्ति को जीवन बीमा खरीदने का सुझाव दिया जाता है।

साधारण बीमा में वाहन बीमा घर बीमा पशु बीमा फसल बीमा स्वास्थ्य बीमा आदि शामिल होते हैं।

घर का बीमा(House insurance)-


अगर आप अपना घर का बीमा किसी साधारण बीमा कंपनी से कराते हैं तो इसमें आपके घर की सुरक्षा होती है बीमा पॉलिसी खरीदने के बाद अगर आपके मकान को किसी भी तरह का नुकसान होता है तो उसका हर्जाना बीमा कंपनी देती है आपके घर को किसी भी तरह के नुकसान से कवरेज इस बीमा कंपनी की पॉलिसी में शामिल होता है घर को प्राकृतिक आपदा से हुए नुकसान में आग भूकंप आकाशीय बिजली बाढ़ आज की वजह से होने वाला नुकसान शामिल है कृत्रिम आपदा में घर में चोरी होना आग लड़ाई दंगे आज की वजह से घर को हुआ नुकसान शामिल है।

वाहन बीमा(Vehicle insurance)-

भारत में सड़क पर चलने वाले किसी वाहन का बीमा कराना कानून के हिसाब से बहुत जरूरी है अगर आप अपने वाहन का बीमा कराएं बिना उसे रोड पर चलाते हैं तो आपको ट्रैफिक पुलिस जुर्माना कर सकती है मोटर या वाहन बीमा पालिसी के हिसाब से वाहन को हुए किसी भी नुकसान के लिए बीमा कंपनी मुआवजा देती है अगर आप का वाहन चोरी हो गया है या उससे कोई दुर्घटना हो गई है तो वाहन बीमा पॉलिसी आपकी काफी मदद कर सकती है।

वाहन बीमा पालिसी का सबसे अधिक फायदा आपको तब होता है जब आपके वाहन से किसी व्यक्ति को चोट लग गई हो या किसी व्यक्ति की मौत हो गई हो इसे थर्ड पार्टी इंश्योरेंस के तहत कवर किया जाता है अगर आपके पास भी कोई दो पहिया या तीन पहिया वाहन है या कार है तो उसका बीमा जरूर कराना चाहिए।

कारोबार उत्तर दायित्व बीमा-

उत्तर दायित्व बीमा वास्तव में किसी कंपनी के कामकाज या किसी उत्पाद से ग्राहक को होने वाले नुकसान की भरपाई के लिए होता है इस तरह की किसी स्थिति में कंपनी पर लगने वाला जुर्माना और कानूनी कार्यवाही का पूरा खर्च लायबिलिटी इंश्योरेंस या उत्तर दायित्व बीमा करने वाली बीमा कंपनी को उठाना पड़ता है।

फसल बीमा-

मौजूदा नियमों के हिसाब से कृषि लोन लेने वाले हर किसान को फसल बीमा खरीदना जरूरी होता है फसल बीमा पालिसी के तहत फसल को किसी भी तरह का नुकसान होने पर बीमा कंपनी किसान को उसका मुआवजा देती है फसल बीमा पॉलिसी के तहत आग लगने बाढ़ की वजह से या किसी बीमारी की वजह से अगर फसल खराब होती है तो उस खराब होने के फसल पर बीमा कंपनी की तरफ से मुआवजा दिया जाता है।

फसल बीमा पालिसी की शर्त बहुत कड़ी होने और लागत के हिसाब से मुआवजा नहीं मिलने की वजह से अभी किसानों में फसल बीमा के प्रति बहुत उत्साह नहीं है वास्तव में फसल खराब होने पर मुआवजा देने के लिए बीमा कंपनियां उस खेत के आसपास मौजूद सभी खेत का सर्वे करती हैं और मुआवजा तभी भी आ जाता है जब अधिकतर किसानों की फसल को नुकसान पहुंचा हो।


यात्रा बीमा(travel insurance)-

यात्रा बीमा किसी यात्रा के दौरान होने वाले नुकसान से बचाती है अगर कोई व्यक्ति किसी काम से या घूमने के लिए विदेश जाता है और उसे चोट लग जाती है या सामान गुम हो जाता है तो बीमा कंपनी उसे मुआवजा देती है यात्रा बीमा पालिसी आज की यात्रा शुरू होने से लेकर के यात्रा खत्म होने तक ही वैध होता है यात्रा बीमा पालिसी के लिए अलग-अलग बीमा कंपनियों के साथ अलग अलग हो सकती है।

स्वास्थ्य बीमा(health insurance)-

आजकल इलाज का खर्च बहुत तेजी से बढ़ रहा है स्वास्थ्य बीमा लेने पर बीमारी होने पर बीमा कंपनी इलाज का खर्च कवर करती है स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी के तहत इंश्योरेंस कंपनी किसी भी तरह की बीमारी होने पर इलाज पर खर्च होने वाली रकम देती है किसी बीमारी पर होने वाले खर्च की सीमा आपके स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी पर निर्भर करता है।

Thank you

Comments

Popular posts from this blog

दीपावली/दीवाली - 2019 | दीपावली का अर्थ | दिवाली 2019 कब है

Tamil new movies download | tamil hd movies download

Navratri 2019 | navratri date