brave-ledger-verification=8c51c7c50ff9b5d34622a2d93eff0b168ed2b58ac0a595a31c05e0cd4905a834

Navratri 2019 | navratri date

Navratri 2019 | navratri date


सर्वमङ्गलमाङ्गल्ये शिवे सर्वार्थसाधिके ।
शरण्ये त्र्यम्बके गौरि नारायणि नमोऽस्तु ते ॥


Nawratri 2019-आप यहां पर Navratri date Navratri puja Navratri colours और navratri आदि से जुडी सभी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं


दोस्तों दिव्य स्त्री शक्ति देवी माँ को समर्पित शारदीय नवरात्री का आगमन सरद ऋतू के साथ हो रहा हैं इस नवरात्र को हम शारदीय नवरात्र कहते हैं और ये ९ दिनों का व्रत त्याग और समर्पण का प्रतिक मन जाता है भक्तों की आस्था और विश्वास का प्रतीक  है और देवी दुर्गा माँ की पूजा प्राचीन काल से चली आ रही है.

जब भगवान् श्री राम ने शक्ति की आराधना क्र डस्ट रावण का वध किया था समाज को यह सन्देश दिया था की बुराई पर हमेशा सच्चाई की जीत होती है और ऐसे अनेक पौराणिक कथाएं हैं जहाँ पर माता रानी की पूजा की महानता बताई गयी है

इसी आधार पर आज भी दुर्गा माँ की पूजा संपूर्ण भारत में संपूर्ण विश्व में यहां तक की संपूर्ण ब्रह्माण्ड में बहुत ही हर्ष और उल्लाश के साथ मनाई जाती है
व्रत के दौरान कुछ चीज़ो को निषेध बताया जाता है वही पर कहीं कहीं पर अपने अपने नियम होते हैं जैसे कहि पर नॉनवेज की मनाही होती है तो कहीं पर माँ को तामसी भोजन का ही प्रसाद का भोग लगाया जाता है

Navratri date

दोस्तों १५ सितम्बर २०१९ से अष्विन माह सुरु हो चुका है अभी हम फिलहाल पितृ पक्ष मना है इसके बाद नवरात्र फिर दशहरा आएंगे और १३ अक्टूबर २०१९ को शरद पूर्णिमा रहने वाला है इसके साथ ही आश्विन माह का अंत हो जायगा २९ सितम्बर २०१९ से नवरात्र यानि की शारदीय नवरात्र सुरु हो जायगा और माँ के विभिन्न रूप खाश कर ९ रूपों की हम उपासना करते हैं और वैसे तो माता की सवारी शेर होती है पर नवरात्र में उनके आगमन के लिए वाहन दिन के अनुसार बदलते रहते हैं

दुर्गा पूजा के ९ दिनों तक देवी माँ का पूजन दुर्गा सप्तसती का पाठ जो भी आपकी धार्मिक क्रिया आप करना चाहें आप कर सकते हैं और माँ दुर्गा के ९ रूप की पूजा का विधान आता है


Navratri puja

आइये जानते है माँ के ९ रूप कौन कौन से हैं

1-शैलपुत्री
2-ब्रह्मचारणी 
3-चंद्रघंटा
4-कुष्मांडा
5-स्कंदमाता
6-कात्यायनी
7-कालरात्रि
8-महागौरी
9-सिद्धिदात्री

Navratri puja & Navratri colours

माँ के भक्तों आइये जानते माँ की पूजन विधि
घट स्थापना से सुरु होता है और आश्विन शुक्ल पक्ष की तिथि के दिन सुबह सुबह स्नान आदि करके संकल्प लेना चाहिए।या तो आप स्वयं स्थापना करे या पंडित जी को बुला कर उनसे करवाएं।कुल देवी की या माँ दुर्गा की प्रतिमा हो उसको स्थापित करें और दुर्गा सप्तसती का पथ करें।माता रानी की ज्योत लें इस बार माँ दुर्गा आगमन हाथी पर माँ का जाना है वो घोड़े पर होने वाला है.कहतें है की दोनों ही शुभ  नहीं है.लेकिन माँ की पूजा उसी तरिके से होगी जैसे हम हमेशा करते हैं जिससे भक्तो को सुफल जरूर प्राप्त होगा

घट स्थापना से सुरु होता है और आश्विन शुक्ल पक्ष की तिथि के दिन सुबह सुबह स्नान आदि करके संकल्प लेना चाहिए।या तो आप स्वयं स्थापना करे या पंडित जी को बुला कर उनसे करवाएं।कुल देवी की या माँ दुर्गा की प्रतिमा हो उसको स्थापित करें और दुर्गा सप्तसती का पथ करें।माता रानी की ज्योत लें इस बार माँ दुर्गा आगमन हाथी पर माँ का जाना है वो घोड़े पर होने वाला है.कहतें है की दोनों ही शुभ  नहीं है.लेकिन माँ की पूजा उसी तरिके से होगी जैसे हम हमेशा करते हैं जिससे भक्तो को सुफल जरूर प्राप्त होगा

आइये जानते हैं किस दिन किस माँ की पूजा करनी है और कौन रंग शुभ होगा

29 सितम्बर 2019 - शैलपुत्री (लाल)
30 सितम्बर 2019 - ब्रह्मचारणी (पीला)
01 अक्टूबर  2019 - चंद्रघंटा (हरा)
02 अक्टूबर  2019 - कुष्मांडा (धूसर)
03 अक्टूबर  2019 - स्कंदमाता (नारंगी)
04 अक्टूबर  2019 - कात्यायनी (सफ़ेद)
05 अक्टूबर  2019 - कालरात्रि (गुलाबी)
06 अक्टूबर  2019 - महागौरी (आसमानी)
07 अक्टूबर  2019 - सिद्धिदात्री (मोर वाला हरा)

08 अक्टूबर को दशहरा है इसके बाद आप लोग पारण कर सकतें हैं.
पारण आप अस्टमी को भी कर सकतें हैं इसमें कुछ भी गलत नहीं होगा जिस दिन भी आप पारण करें तो
कन्या पूजन जरूर करें।


देवी माँ का युद्ध पुरे महिषासुर से पुरे 9 दिन तक चला था इसलिए दशहरा को देवी माँ के विजय के रूप में मनाया
जाता है
दोस्तों पूरे नवरात्र किसी को भी बाल नहीं बनवाने चाहिए और न ही महिलाओं को वैक्स करवाना चाहिए पूरे 9 
दिनों तक सात्विक भोजन करें

तो माँ के भक्तों कैसी लगी आपको मेरे द्वारा दी गयी जानकारी हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं

अगर आपको मेरे द्वारा दी गयी जानकारी अच्छी लगी हो तो कृपया शेयर और सब्सक्राइब जरूर करें और लाइक करें


जय माता दी


0 comments:

Post a Comment

Please Leave A Comment